आल की धवाजा नही Aalha Ki Dhwaja Nahi Hindi Lyrics By Shahnaz Akhtar


#BHAKTIGAANE #LatestBhajan #BestBhajan #Durgabhajan
Name:आल की धवाजा नही Aalha Ki Dhwaja Nahi
Singer Name: Shahnaz Akhtar:
Album Name: Maiyya Pav Paijaniya
Published Year: 2018
File Size:12 MB
Time Duration:13:06 M



View In Hindi Lyrics

तीन ध्वजा तीनो लोक से आईं,
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो माँ
हो मईया आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो माँ।

जाओ जाओ मेरे बिरहा हो लँगूरवा
आल्हा को पकड़ ले आओ हो माँ।(2)
एक बनना खें दूजे बनना खें
तीजे वन महोवा लोक हो माँ। (2)
अरे तीन ध्वज…

गाँव की पनिहारि से पूछे हो लँगूरवा
आल्हा का पता बतलाओ हो माँ।(2)
अरे बीच में होवे आल्हा को मकनवा
वहीं पर टेर लगाए हो म। (2)
अरे तीन ध्वज…

आल्हा आल्हा खूब पुकारा
आल्हा नदियों के घाट हो माँ।(2)
बांध लँगोटी आल्हा नहा रहे
सरसों का तेल लगाए हो माँ। (2)
अरे तीन ध्वज…

पड़ी नजरिया जब अला की
मन में गयो घबराए हो माँ।(2)
अरे कौन दिशा से आये हो लँगूरवा
कौन संदेसा लाये हो माँ।(2)
अरे तीन ध्वज…

मैहर से हम आये हैं आल्हा
मैया शारदा तुमको बुलाये हो माँ(2)
अरे कैसे कैसे चले हैं लँगूरवा
नहीं कछु हमारे पास हो माँ। (2)
अरे तीन ध्वज…

पान सुपारी ध्वजा नारियल
लेहो बालक भेंट हो माँ(2)
एक बनना खें दूजे बनना खें
तीजे वन मैहर लोक हो माँ।(2)
अरे तीन ध्वज…

खोल किवड़िया दर्शन दे दो
आल्हा खड़ो तेरो द्वार हो माँ(2)
मैया ने आल्हा को दर्शन दे दई।
आल्हा लौट आओ अपने देश हो माँ,(2)
अरे तीन ध्वज…

तीन ध्वजा तीनो लोक से आईं,
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो माँ
हो मईया आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो माँ।

Download-Button1-300x157


Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


Leave a Reply