बिगड़ी बात बने नहीं || Bigadi Baat Bane Nahi Rahim Das Ji ke Dohe Amritvani Bhajan Full Hindi Lyrics By Kamlesh Upadhyay

 

#BHAKTIGAANE #AmritvaniBhajan #Amritvani
Lyrics Name:बिगड़ी बात बने नहीं
Singer Name:Kamlesh Upadhyay
Album Name :Amritvani Bhajan
Published Year:2017
File Size:14MB Time Duration :10:02:00





View In English Lyrics

बिगड़ी बात बने नहीं लाख करो किन कोई
रहिमन फाटे दूध को मथे ना माखन होये

बिगड़ी बात बने नहीं लाख करो किन कोई
रहिमन फाटे दूध को मथे ना माखन होये

रहिमन धागा प्रेम का मत तोड़ो चटकाए
टूटे पे फिर ना जुड़े जुड़े गाठ पड़ जाए

रहिमन देखि बड़े को लघु ना दीजिए डारि
जहा काम आवे सुई कहा करे तलवार

जो रहीम उत्तम प्रकृति का करि सकत कुशांग
चन्दन विष व्यापे नहीं लिपटे रहत भुजंग

रूठे सुजान मनाईये जो रूठे सौ बार
रहिमन फिर फिर पोईये टूटे मुक्त हार

जो बड़े को लघु कहे नहीं रहीम घटी जाहि
गिरधर मुरली धर कहे कछु दुःख मानत नाही

जैसी परे सो सही रहे कहे रहीम यह देह
डरती ही पर परत शीत घाम और मेह

खीरा सर ते काटी के मलियत लोन लगाए
रहिमन करुए मुखं को चाहिए यही सजाये

दोनों रहिमन एक से जो लो बोलत नाही

जान परत है काक पिक ऋतू बसंत के माहि

रहिमन अशुवानायन धारी जिया दुःख प्रगट करे
जाहि निकरउ गेह ते कासन भेद कही दे

Download-Button1-300x157



Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


Leave a Reply

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: