चंदन के पलने में झूले रघुराई Chandan Ke Palne Mein Raghuraai Lyrics Sing By Tripti Shakya

चंदन के पलने में झूले रघुराई Chandan Ke Palne Mein Raghuraai

#BhaktiGaane #LordRamSong #DevotionalSongs

चंदन के पलने में झूले रघुराई Chandan Ke Palne Mein Raghuraai Lyrics Sing By Tripti Shakya

Title : चंदन के पलने में झूले रघुराई Chandan Ke Palne Mein Raghuraai
Album Name: JANMEIN AWADH MEIN RAM
Lyrics Written By: RAVI CHOPRA
Singer Name: Tripti Shakya
Publishing Year:2019
Music Lenth: 3:25
Size: 5 MB

Songs Info : बहुत ही सुन्दर भजन हैं जिसे सुनकर आप भाव विभोर हो जायेंगे ऐसे ही बहुत सारे भजनो का संग्रह हैं भक्तिगाने में मिलेगा , खुद भी सुने और दुसरो को भी सुनाये और साथ में शेयर कर हमें सहयोग प्रदान करे

चंदन के पलने में झूले रघुराई,
देख देख हरषाये कौशलया माई,

मुखड़े पे तेज कोटी सूरज के समान है,
देके सुनी ना कभी ऐसी मुश्कान है,
इतनी पावन छवि के सब के मन भइ,
देख देख हरषाये कौशलया माई,

लेती माँ भलाई कभी नजर उतार ती,
हीरे मोती पने अपने लाल पे वार ती,
कहती तुझपे पड़े न दुःख की परछाई,
देख देख हरषाये कौशलया माई,

छम छम पैजनियां भाजे राम जी के पाँव में,
जगत खिवैयाँ खेले ममता की छाव में,
संग है लक्ष्मण भरत शत्रुघ्न सब भाइ,
देख देख हरषाये कौशलया माई,

Download-Button1-300X157

Leave a Reply