दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे Dar Dar Bhatk Raha Hu Teri Dosti Ke Peeche Lyrics Sing By Vikas Gautam ji Maharaj

दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे Dar Dar Bhatk Raha Hu Teri Dosti Ke Peeche

#BhaktiGaane #LordKrishnaSong #DevotionalSongs

Title : दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे Dar Dar Bhatk Raha Hu Teri Dosti Ke Peeche
Album Name: Dar Dar Bhatk Raha Hu Teri Dosti Ke Peeche
Lyrics Written By: ****************
Singer Name: Vikas Gautam ji Maharaj
Publishing Year:2019
Music Lenth: 6:45
Size: 9 MB


Songs Info : बहुत ही सुन्दर भजन हैं जिसे सुनकर आप भाव विभोर हो जायेंगे ऐसे ही बहुत सारे भजनो का संग्रह हैं भक्तिगाने में मिलेगा , खुद भी सुने और दुसरो को भी सुनाये और साथ में शेयर कर हमें सहयोग प्रदान करे

दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे,
क्या सजा मिली है मुझको तेरी दोस्त के पीछे,
दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे

मैं गरीब हु तो क्या है दीनो के नाथ तुम हो,
होठो पे है उदासी तेरी रोशनी के पीछे
दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे

हे द्वारिका के वासी अखियां दर्श की प्यासी,
दिखला झलक जरा सी अरे मेरी दोस्ती के पीछे,
दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे

बचपन का यार तेरा आया तेरी गली में,
दर दर भटक के आया तेरी दोस्ती के पीछे,
दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे

तुम हो पतित पावन अधमो का मैं हु स्वामी,
अब तो दर्श करा जा तेरी दोस्ती के पीछे,
दर दर भटक रहा हु तेरी दोस्ती के पीछे

Download-Button1-300x157


Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


  • Hi guys I Love to Singing the songs In My Band , i love to sing the Devotional songs and Many more types and here i created the my blog for help those people who sing the devotional songs. and I want to share my things to your Network To grove more and Listen and Sing together Plese FOLLOW ME | SHARE ME | LIKE ME ... Thanks

Random Posts

Leave a Reply