जिसकी चौखट पर झुकता ये संसार है Jiski Chokath Par Jhukta Ye Sansar Hai Lyrics Sing By Shri Shyam Singh Chouhan

जिसकी चौखट पर झुकता ये संसार है Jiski Chokath Par Jhukta Ye Sansar Hai

#BhaktiGaane #KhatuShyamSong #DevotionalSongs

जिसकी चौखट पर झुकता ये संसार है Jiski Chokath Par Jhukta Ye Sansar Hai Lyrics Sing By Shri Shyam Singh Chouhan

Title : जिसकी चौखट पर झुकता ये संसार है Jiski Chokath Par Jhukta Ye Sansar Hai
Album Name: Jiski Chokath Par Jhukta Ye Sansar Hai
Lyrics Written By: ****************
Singer Name: Shri Shyam Singh Chouhan
Publishing Year:2019
Music Lenth: 7:21
Size:10 MB

Songs Info : बहुत ही सुन्दर भजन हैं जिसे सुनकर आप भाव विभोर हो जायेंगे ऐसे ही बहुत सारे भजनो का संग्रह हैं भक्तिगाने में मिलेगा , खुद भी सुने और दुसरो को भी सुनाये और साथ में शेयर कर हमें सहयोग प्रदान करे

जिसकी चौखट पर झुकता ये संसार है
उसकी चौकठ के हम तो सेवादार है,
ये श्याम से प्रीत लगाने का उपहार है,
सेवादार है हम सेवादार है,

जो दीं दुखी होते है उनके दुःख दूर है करता,
जो खाली झोली लाये उनके भंडारे भरता,
लख लख कर देता ऐसा लख दातार है
सेवादार है हम सेवादार है,

कोई प्रेमी इनका हम को जब भी कही मिल जाता,
इक अनजाना प्यारा सा रिश्ता बन जाता,
अपनों से बढ़ कर मिलता उनसे प्यार है,
सेवादार है हम सेवादार है,

ये इक ही सच्चा द्वारा आलू सिंह जी ने बताया,
जो सच्चे मन से ध्यावे उस बाबा से मिलवाया,
कहे श्याम का किया या घर घर में प्रचार है,
सेवादार है हम सेवादार है,

Download-Button1-300X157

Leave a Reply