पलकों का घर तैयार साँवरे Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware

पलकों का घर तैयार साँवरे मेरी अखियाँ करें इन्तज़ार साँवरे



Singer By: Mohit
Lyrics By : Mohit

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware Sung By : Mohit This version of song is written by Mohit Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware Publisher : Yuki It is written very beautifully, if you like this song, then share it with others, share it with your friends or Facebook or Whatsapp and give us support.

Download :MP3 | MP4 | M4R


Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware -HD Video


Songs Info : बहुत ही सुन्दर गाना हैं Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware | पलकों का घर तैयार साँवरे मेरी अखियाँ करें इन्तज़ार साँवरे जिसे लिखा हैं Mohit और गया हैं Mohit बहुत ही सुन्दर तरह से लिखा गया हैं अगर ये गाना आपको अच्छा लगा तो दुसरो के साथ भी शेयर करे अपने दोस्तों या Facebook या Whatsapp पर शेयर करे और हमें सहयोग प्रदान करे .



पलकों का घर तैयार साँवरे
मेरी अखियाँ करें इन्तज़ार साँवरे
पलकों का घर तैयार साँवरे..

आँखों के अंसुवन जल से, तेरे चरण पखारूंगा मैं
पलकों की कंघी से तेरे बाल सँवारूँगा मैं
मोका सेवा का दे, एकबार साँवरे

पलकों का घर तैयार साँवरे
मेरी पलकों का घर तैयार साँवरे

पुतली के दरवाज़े उपर, पलकों का है पहरा
प्रेम है ये नि स्वार्थ हमारा, सागर सा है गहरा है

हम तेरे हुए तलबगार सॉंवरे
पलकों का घर तैयार साँवरे

हम तेरे हुए ,तलबगार सावरी
मेरी पलकों का घर तैयार साँवरे

बढ़े भाव से , बड़े चाव से, तेरा लाड़ करेंगे
जहाँ रखोगे क़दम कन्हैया, वहीं पे हाथ रखेंगे

ख़्वाहिश पूरी करों एक बार साँवरे
पलकों का घर तैयार साँवरे
मेरी पलकों का घर तैयार साँवरे

महलों जैसे ठाठ नहीं, धर देखने तो आओ
रहना ना चाहो कम से कम, आज़माने आओ
मोहित दिल से करे मनुहार साँवरे
पलकों का घर तैयार साँवरे
मेरी पलकों का घर तैयार साँवरे

मेरी अखियाँ करें इन्तज़ार साँवरे
पलकों का घर तैयार साँवरे

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware
meree akhiyaan karen intazaar saanvare
Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware

aankhon ke ansuvan jal se, tere charan pakhaaroonga main
palakon kee kanghee se tere baal sanvaaroonga main
moka seva ka de, ekabaar saanvare

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware
meree palakon ka ghar taiyaar saanvare

putalee ke daravaaze upar, palakon ka hai pahara
prem hai ye ni svaarth hamaara, saagar sa hai gahara hai

ham tere hue talabagaar sonvare
Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware

ham tere hue ,talabagaar saavaree
meree palakon ka ghar taiyaar saanvare

badhe bhaav se , bade chaav se, tera laad karenge
jahaan rakhoge qadam kanhaiya, vaheen pe haath rakhenge

khvaahish pooree karon ek baar saanvare
Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware
meree palakon ka ghar taiyaar saanvare

mahalon jaise thaath nahin, dhar dekhane to aao
rahana na chaaho kam se kam, aazamaane aao
mohit dil se kare manuhaar saanvare
Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware
meree palakon ka ghar taiyaar saanvare

meree akhiyaan karen intazaar saanvare
Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware -HD Video

For Free Download Click Here Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware Download

Palko Ka Ghar Taiyaar Saanware Meri Aakhiya Kare Intzaar Saaware

Categories


Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


Leave a Reply