Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Main रम गयी माँ मेरे रोम रोम में Mp3 Lyrics Song

 

DurgaDevi

Title Name : रम गयी माँ मेरे रोम रोम में मेरी सांसो में अम्बे के नाम की धारा बहती Ram Gayi Maa Mere Rom Rom Mein Mp3 Lyrics Full

Singer Name : अनुराधा पौडवाल

Album Name : भक्ति सागर

Published Year : 2005

File Size : 9 MB

Time Duration : 6.14 Min


View In English Lyrics


रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

मेरी सांसो में अम्बे के नाम की धारा बहती
इसीलिए तो मेरी जिह्वा हर समय ये कहती

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

जहा भी जाऊ ,जिधर भी देखू

जहा भी जाऊं, जिधर भी देखू

अस्तभुजी माता के , ये रंग ऐसा जिसके
आगे और सभी रंग फीके भक्तो

और सभी रंग फीके भक्तो
और सभी रंग फीके भक्तो

आंधी आये तूफ़ान आया ,पर ना भरोसा ना डोला
नाम दीवाना भक्त जानू ,यही झूम के बोला

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

दुःख सुख भक्तो ,इस जीवन को

दुःख सुख भक्तो , इस जीवन को , एक बराबर लागे
मंन में माँ की ज्योति जगी है  इधर उधर क्यों भागे

इधर उधर क्यों भागे , इधर उधर क्यों भागे

सपने में जब वैष्णों माँ ने ,अध्भुत रूप दिखाया
मस्ती में बावरे हो कर श्रीधर ने फरमाया

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

मंन चाहे अब , मंन चाहे अब
माँ के दर का मैं सेवक बनजाऊ
माँ के भक्तो की सेवा में सारी उम्र बिताओ

छिन्न मस्तिका चिंता हरणी नैनन बीच समायी
मस्ताना हो भाई दास ने ये ही रत लगाईं

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में

मेरी सांसो में अम्बे के नाम की धारा बहती
इसीलिए तो मेरी जिह्वा हर समय ये कहती

रम गयी माँ मेरे रोम रोम में
रम गयी माँ मेरे रोम रोम में


Download-Button1-300x157



Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


Leave a Reply

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: