Tag: 2017 Best Bhaqjn Maati Kahe Kumhar Se

माटी कहे कुम्हार से || Maati Kahe Kumhar Se Beautiful Kabir Amritvani Full Hindi Lyrics

माटी कहे कुम्हार से || Maati Kahe Kumhar Se Beautiful Kabir Amritvani Full Hindi Lyrics

अमृत वाणी हिंदी भजन लिरिक्स - AmritWaani Hindi Bhajan Lyrics, कबीरदास के दोहे - Kabir Das Dohe Hindi Bhajan Lyrics
#BHAKTIGAANE Lyrics Name:माटी कहे कुम्हार से Album Name:Kabir Amritvani Published Year:2017 File Size:9:MB Time Duration:6:31 View In English Lyrics माटी कहे कुम्हार से, तू क्या रुंधे मोहे एक दिन ऐसा आएगा मैं रूँदूँगी तोहे… आये है सो जायेंगे राजा रंक फकीर बिना जीव के श्वास सो लोह भसम हो जाये… चलती चक्की देख के दिया कबीरा रोये दो पाटन के बीच में साबुत बचा ना कोई दुख में सुमिरन सब करे सुख में करे ना कोई जो दुख में सुमिरन करे तो दुख कहे को होय… पत्ता टूटा डाल से ले गयी पवन उडाये अब के बिछड़े कब मिलेंगे दूर पड़ेंगे जाय कबीर आप ठगिये और न ठगिये कोई आप ठगे सुख उपजे और ठगे दुख होए माटी कहे कुम्हार से तू क्यों रोन्धे मोय माटी कहे कुम्हार से तू क्यों रोन्धे मोय एक दिन ऐसा आएगा मैं रोन्दु की तोय एक दिन ऐसा आएगा मैं रोन्दु की तोय ...