तेरे दर पे आने के मैया दो बहाने है Tere Dar Pe Aana Ke Maiya Do Bahaane Hai Lyrics Sing By Rishi Kumra

तेरे दर पे आने के मैया दो बहाने है Tere Dar Pe Aana Ke Maiya Do

Bahaane Hai

#BhaktiGaane #MataRaniSong #DevotionalSongs

तेरे दर पे आने के मैया दो बहाने है Tere Dar Pe Aana Ke Maiya Do Bahaane Hai Lyrics Sing By Rishi Kumra

Title : तेरे दर पे आने के मैया दो बहाने है Tere Dar Pe Aana Ke Maiya Do Bahaane Hai
Album Name: Maa Tere Dar
Lyrics Written By: Sonu Saagar
Singer Name: Rishi Kumra
Publishing Year: 2019
Music Lenth: 4:27
Size: 6 MB

 

Songs Info : बहुत ही सुन्दर भजन हैं जिसे सुनकर आप भाव विभोर हो जायेंगे ऐसे ही बहुत सारे भजनो का संग्रह हैं भक्तिगाने में मिलेगा , खुद भी सुने और दुसरो को भी सुनाये और साथ में शेयर कर हमें सहयोग प्रदान करे

तेरे दर पे आने के मैया दो बहाने है,
कुछ शिकवे करने है कुछ दर्द सुनाने है,

गिरा हुआ हु दुखो से तुम ने सार न जानी है,
घाव गहरे पीड़ा हारी आँख से झलका पानी है,
कितनी आहे कितने आंसू तुम्हे गिनाने है,
कुछ शिकवे करने है कुछ दर्द सुनाने है,

सार है तुम को मैया तेरा दर ही मेरा ठिकाना है,
हाल दिल का तेरे सिवा किसको और सुनाना है,
सुख भी सारे दुःख भी सारे तुम्हे बताने है,
कुछ शिकवे करने है कुछ दर्द सुनाने है,

करने है जो सिकवे तुझसे सागर लिख के लाया है,
कहना कुछ भी रह न जाये मन में सोच के आया है,
क्या है पाया काया है खोया हिसाब दिखाने है,
कुछ शिकवे करने है कुछ दर्द सुनाने है,

Download-Button1-300X157

Leave a Reply