तुम से लागी लगन ले लो अपनी शरण Tumse Laagi Lagan Le Lo Apni Sharan Jain Bhajan Lyrics Ruchi Raizada

jain
Mp3 Song/Lyrics Name : तुम से लागी लगन, ले लो अपनी शरण,पारस प्यारा,मेटो मेटो जी संकट हमारा निशदिन तुमको जपूँ|Tum Se Laagi Lagan Le Lo Apni Sharan Paras Pyara Meto Meto Ji Sankat Hamara Nishdin Tumko Japu|
SingerRuchi Raizada
Album Name : Jain Stavan
Published Year : 2014
File Size :5 Mb Time Duration : 3:30 Min



View In English Lyrics

तुम से लागी लगन,
ले लो अपनी शरण,पारस प्यारा,
मेटो मेटो जी संकट हमारा
निशदिन तुमको जपूँ,
पर से नेह तजूँ, जीवन सारा,
तेरे चाणों में बीत हमारा
तुम से लागी लगन,
ले लो अपनी शरण,पारस प्यारा,
मेटो मेटो जी संकट हमारा ।
निशदिन तुमको जपूँ,
पर से नेह तजूँ, जीवन सारा,
तेरे चाणों में बीत हमारा ॥

अश्वसेन के राजदुलारे,
वामा देवी के सुत प्राण प्यारे।
सबसे नेह तोड़ा,
जग से मुँह को मोड़ा,संयम धारा॥
मेटो मेटो जी संकट हमारा॥

इंद्र और धरणेन्द्र भी आए,
देवी पद्मावती मंगल गाए।
आशा पूरो सदा,दुःख नहीं पावे कदा,
सेवक थारा
मेटो मेटो जी संकट हमारा॥

जग के दुःख की तो परवाह नहीं है,
स्वर्ग सुख की भी चाह नहीं है।
मेटो जामन मरण,होवे ऐसा यतन,
पारस प्यारा
मेटो मेटो जी संकट हमारा॥

लाखों बार तुम्हें शीश नवाऊँ,
जग के नाथ तुम्हें कैसे पाऊँ
‘पंकज’ व्याकुल भया दर्शन
बिन ये जिया लागे खारा
मेटो मेटो जी संकट हमारा
मेटो मेटो जी संकट हमारा
मेटो मेटो जी संकट हमारा॥

Download-Button1-300x157


Pleas Like And Share This @ Your Facebook Wall We Need Your Support To Grown UP | For Supporting Just Do LIKE | SHARE | COMMENT ...


Leave a Reply